दस्युओं की पनाहगाह में बेल
भारतीय मृदा एवं जलसंरक्षण अनुसंधान केन्द्र बीहड़ में फल और घास की खेती का मॉडल तैयार पीयूष शर्मा जयपुर। देश-दुनिया में डाकुओं की पनाहगाह के लिए बदनाम रहे चम्बल के बीहड़ अब फलने लगे है। बेलफल, करौंदा, लसोड़ा और सीताफल का सफल उत्पादन यहां हो रहा है।  More........
डूंगरपुर (कास)। छोटी जोत के लिए अलग पहचान रखने वाले डूंगरपुर जिले को कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी ने ऑर्गेनिक जिला बनाने की घोषणा की है। गौरतलब है कि इस जिले के किसानों के पास 2-4 बीघा कृषि जोत है। वह भी छोटे-छोटे टुकड़ो में बटी हुई है। इस कारण कृषि विक More........
जयपुर (कास)। प्रदेश के किसान की आर्थिकी बढ़ाने के लिए राजस्थान राज्य बीज निगम ने प्रयास शुरू कर दिए हैं। बेहत्तर मॉनिटरिंग व्यवस्था के बाद निगम प्रदेश के किसान को नई बाजरा किस्म का बीज उपलब्ध करवाने की तैयार में जुटा हुआ है। निगम के अधिकारियों का दाव More........
कृषि सलाह
किसान भाईयों कृषि कार्यों को समय पर करने से और उन्नत कृषि विधियां अपनाने से कृषि से अधिक लाभ प्राप्त किया जा सकता है। समय पर कृषि क्रियाएं करने से रोग व कीटों का आक्रमण कम हो जाता है तथा इनसे होने वाली हानि को रोककर उत्पादन में वृद्धि की जा सकती है। किसानों के लिए कृषि कार्यों में इस सप्ताह 2 मई से 8 मई तक किए जाने वाले कृषि कार्य निम्न हैं। द्य करेला, तुरई, टिण्डा, ककडी व खरबूज में फल मक्खी के प्रकोप से फल काणे हो जाते है । फल मक्खी के नियंत्रण हेतु काणे फलों को तोड़कर भूमि में गहरा गाड़ कर नष      More........